मिले थे तुमको तो मिलते रहेंगे

मिले थे तुमको तो मिलते रहेंगे ।एहसास  ऐसा कभी हुआ ना था ॥सोचना कभी कि क्या लोग कहेंगे ।एहसास  ऐसा कभी हुआ ना था ॥ना फिक्र जमाने की ना दुनिया का  डर था ।साथ तेरा था और लंबा सफर था ॥चलते रहे दोनों यूं…

8 Comments

एक झलक में दिखा वो चेहरा पुराना सा

एक झलक में दिखा वो चेहरा पुराना सा कुछ अनमना सा थोड़ा पहचाना सा सुरमई आंखें वो और सुर्ख लाल गाल तारों सी चमकती हंसी और बेसुध से बाल छेड़ दिया फिर दिल को और करते गए कमाल इस हँसी ने पलटे यूं पन्ने  पुराने जिंदगी के लगता है लौट…

7 Comments

आज तुम्हारी याद है आई

आज तुम्हारी याद है आई ,        साथ में अपने मौत ले आई। यूं कितनी मौतें मारोगी हमको ,         यू ना बढ़ाओ हमारे गम को।कभी हमारे पास तो आओ ,          कुछ प्यार से हमको यूं सहलाओ।कि, खुशनुमा…

0 Comments

Heart touching poem in hindi । माँ । अम्बकेश्वर पाठक

माँ कौन कहता है कि भगवान दिखते नहीं ,मैंने देखा है उन्हें , वह सिर्फ दुकानों में बिकते नहीं ।जन्म दिया है जिसने प्यार भरा जो आसमां है ,कभी सीता है , कभी लक्ष्मी है घर की , वह मेरी मां है ।चलना हंसना…

6 Comments

Rahat Indori famous ghazal in Hindi-मैं लाख कह दूँ कि आकाश हूँ ज़मीं हूँ मैं

Rahat Indori ghazal in Hindi मैं लाख कह दूँ कि आकाश हूँ ज़मीं हूँ मैं मगर उसे तो ख़बर है कि कुछ नहीं हूँ मैं अजीब लोग हैं मेरी तलाश में मुझ को वहाँ पे ढूँड रहे हैं जहाँ नहीं हूँ मैं मैं आइनों से…

3 Comments

motivational poem | चलना हमारा काम है | शिव मंगल सिहं ‘सुमन’

   चलना हमारा काम है ।    Chalana hamara kam haiचलना हमारा काम है -शिव मंगल सिहं 'सूमन'  गति प्रबल पैरों में भरीफिर क्यों रहूं दर दर खडाजब आज मेरे सामनेहै रास्ता इतना पडाजब तक न मंजिल पा सकूँ,तब तक मुझे न विराम है,चलना…

1 Comment