पपीता के फायदे और नुकसान । papaya benefits , uses and side effects in Hindi

पपीते के फायदे और नुकसान दोनों के बारे में जानना आवश्यक हैं ।

पपीता हेल्थ और ब्यूटी दोनों के लिए समान रूप से लाभकारी है  ।

papaya benefits , uses and side effects
papaya benefits,uses and side effects
*  पपीता – एक परिचय
* पपीता के औषधीय गुण
* पपीता खाने के लाभ
* पपीता खाने के नुकसान /सावधानियां
*  पपीता और सौंदर्य
* पपीता रेसिपी

पपीता – एक परिचय

botanical name carica papaya 
Advertisement

उपयोगी भाग –

पपीता एक ऐसा फल है जिसका लगभग सभी भाग उपयोगी होता है । पपीते की जड़ से लेकर तना,  छाल,  पत्ते,  बीज, फल  इन सभी का उपयोग किसी न किसी रूप में किया जाता है । 

पूरे विश्व में भारत का पहला स्थान है पपीता उत्पादन में । अर्थात भारत में पपीते का अत्यधिक उत्पादन किया जाता है, पूरे विश्व के पपीता उत्पादन का लगभग 45 से 46% भाग भारत में उत्पादित होता है ।
पपीते में papain नामक तत्व पाया जाता है ,जिसके अनेक औषधीय उपयोग हैं । पपीते में प्रचुर मात्रा में विटामिन सी , फाइबर इत्यादि पाया जाता है ।
papita khane k fayade nuksan aur upyog vidhi
 papaya benefits

पपीते के औषधीय गुण / papite se upchar 

 
papaya में papain और chymopapain नामक , एन्ज़ाइम्स पाए जाते हैं , जिनमें एंटी वाइरल, एंटी फंगल और एंटीबायोटिक प्रॉपर्टीज पाई जाती हैं , इसलिए बैक्टीरिया और वायरस इत्यादि से होने वाली कुछ  परेशानियों को दूर करने के लिए पपीते के विभिन्न भागों का औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है ।
औषधीय पौधों के अध्ययन के एक जर्नल ,अरविंद । जी , देवजीत भौमिक,  यूरिवेल एस, हरीश जी , के अनुसार पपीते का उपयोग , मौसा , कौर्न्स, साइनस, एक्जमा, cutaneous tubercles , glandular tumors , रक्तचाप , dyspepsia , constipation amenorrhoea , सामान्य दुर्बलता , कीड़े को निष्कासित करना और  reproductive organs को stimulate जैसे कई रोगों के उपचार के लिए किया जा सकता है ।

पपीते में पाया जाने वाला पैपीन , इसकी छाल , पत्तियों और फलों में मौजूद होता है ।

पपीते के छाल से दूध को निकाल कर उसको सुखाकर उस पाउडर का उपयोग डाइजेशन के लिए तथा दांतों में होने वाली समस्याओं के निवारण के लिए किया जाता है ।
इसमें पाए जाने वाले biological active compounds के द्वारा Arthritis और  digestive system से संबंधित समस्याओं का निदान किया जाता है ।
 

पपीता खाने के लाभ

पपीते को अगर सही मात्रा में और सही तरीके से खाया जाए तो यह हमारी सेहत के  लिए रामबाण साबित हो सकता है । पपीते को कई तरह से खाया जा सकता है , अधिकतर लोग पका हुआ पपीता खाना पसंद करते हैं क्योंकि यह अत्यधिक स्वादिष्ट होता है ।
  परंतु कच्चा पपीता भी कई तरह से खाया जा सकता है ।  कच्चे पपीते की सब्जी , मुरब्बा , हलवा ,खीर इत्यादि बनाया जाता है , जो खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतना ही पौष्टिक भी होता है ।
*   अगर पपीता खाने के सामान्य लाभ की बात करें ,तो पेट के लिए पपीता अत्यंत लाभकारी होता है । अनियमित दिनचर्या , तनाव और दौड़ भाग भरी  जिंदगी में , कब्ज की समस्या एक सामान्य समस्या हो गई है , जो लगभग हर तीसरे इंसान को परेशान कर रही है ।
*   सुबह खाली पेट पके हुए पपीते का नियमित  सेवन करने से कब्ज, गैस , बदहजमी  की समस्या हमेशा हमेशा के लिए समाप्त हो सकती है ।
*   पपीते में प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है , जिसके कारण पपीते के सेवन से metabolism अच्छा  हो जाता है । जिससे पाचन और हाजमे की समस्या समाप्त हो जाती है ।
*   पपीते में पाए जाने वाले fiber k कारण यह हमारे शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है , जिससे हमारा शरीर भीतर से स्वच्छ और स्वस्थ हो जाता है ।
*   पपीते में पाए जाने वाले फाइबर के कारण पपीता weight loss के लिए एक अच्छा जरिया हो सकता है ।
*   पपीते के नियमित सेवन से ब्लाटिंग और गैस की समस्या से छुटकारा मिलता है,  जिससे शरीर में दिखाई देने वाली सूजन कम हो जाती है , और वेट लॉस में मदद मिलती है ।
papita khane k fayade nuksan aur upyog vidhi
 papaya benefits
*   अगर आप वजन बढ़ने की समस्या से परेशान है तो पपीता आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है । सुबह नाश्ते में पपीते का सलाद अन्य फलों के साथ  नींबू और काली मिर्च डालकर लेने से weight loss मैं मदद मिलती है ।
*    आंखों की समस्या में पपीता अत्यंत लाभकारी है । पपीते में पाया जाने वाला विटामिन ए,  विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स आंखों की सभी समस्याओं से छुटकारा दिला सकते हैं । उम्र बढ़ने के साथ-साथ आंखों में कई तरह की समस्याएं पैदा हो जाती हैं , जिनको पपीते के नियमित सेवन से दूर किया जा सकता है ।

*   type 2 diabetes की समस्या के समाधान में भी पपीता सहायक हो सकता है । क्योंकि यह रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में सहायक होता है ।

*   पपीते में पाए जाने वाले फाइबर और अन्य पोषक तत्वों के कारण यह कोलेस्ट्रॉल को कम करता है हृदय को स्वस्थ बनाता है ।
*   पपीते में भरपूर मात्रा में विटामिन सी , और फाइबर इत्यादि जैसे पोषक तत्व तथा एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं , जो त्वचा संबंधी सभी समस्याओं के समाधान के लिए उपयोगी है ।
*   हमारा स्वास्थ हमारे इम्यून सिस्टम पर निर्भर करता है । हमारा इम्यून सिस्टम जितना अच्छा होगा हम उतना  ही स्वस्थ और लंबा जीवन जी सकते हैं । इम्यून सिस्टम का काम होता है शरीर की रोगों से रक्षा करना । इसे ही रोग प्रतिरोधक क्षमता कहते हैं ।
  हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता जितनी अधिक होगी हम बीमारियों से उतना ही आसानी से बाहर निकल पाएंगे और बीमारियों की चपेट में कम एंगे । हमारे इम्यून सिस्टम को दुरुस्त रखने के लिए हमारे शरीर को विटामिन सी की आवश्यकता अधिक पड़ती है ।
*   पपीते के फल में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिसके कारण हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद मिलती है । इसलिए पपीते के नियमित सेवन से हम अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं और एक स्वस्थ दिनचर्या का पालन करते हुए लंबा और स्वस्थ जीवन जी सकते हैं ।
 आज पूरा देश कोरोना महामारी से परेशान है । इसकी कोई दवा उपलब्ध ना होने के कारण इससे निपटने का सिर्फ एक ही साधन है कि आप अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाइए और अपने इम्यून सिस्टम को मजबूत करिए इसीलिए डॉक्टर की सलाह है कि आप अधिक से अधिक विटामिन सी का सेवन करें जिससे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बड़े और आप इस महामारी से जंग लड़ सकें तो कहीं ना कहीं से कोरोना की जंग में भी पपीते का सेवन हमारे लिए सहायक सिद्ध हो सकता है ।
*   पपीते की तासीर गर्म होती है इसलिए यह सर्दी के मौसम में होने वाली समस्याओं से भी छुटकारा पाने के लिए अत्यधिक लाभ कारक है ।
*   कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि पपीता कैंसर जैसी बीमारी से लड़ने में भी सहायक है ।

पपीता खाने के नुकसान /सावधानियां

वैसे तो पपीता अत्यंत लाभकारक है परंतु इसका सेवन करने से पहले कुछ सावधानियों को जरूर ध्यान में रखना चाहिए । 
पपीते मैं अत्यधिक मात्रा में लेटेक्स होता  है इसलिए अगर आपको लेटेक्स  से कोई एलर्जी है तो आपको पपीते के सेवन से बचना चाहिए । 
गर्भवती महिलाओं को इसके सेवन से परहेज करना चाहिए पपीते की तासीर गर्म होती है तथा इसमें पाए जाने वाले लेटेस्ट  गर्भावस्था मैं कुछ समस्याएं पैदा कर सकता है ।गर्भावस्था के शुरुआती दिनों से लेकर डिलीवरी तक आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप पपीते का सेवन ना करें ।
papita k fayade nuksan aur prayog vidhi
papaya in pregnancy
                                                                    
 
 
गर्भावस्था के दौरान सामान्यत: अपने डॉक्टर से कंसल्ट करने के बाद ही किसी चीज का सेवन करना चाहिए । कुछ लोगों का मानना है कि  कच्चे पपीते से बने हुए खाद्य पदार्थ गर्भावस्था में नुकसानदेह नहीं है उनका सेवन किया जा सकता है , परंतु ऐसा नहीं है पपीता कच्चा हो या पका उसमें लेटक्स की मात्रा पाई जाती है जो गर्भावस्था के लिए नुकसानदेह है
इसलिए अगर आप गर्भवती हैं तो आप पपीते के सेवन से कुछ समय के लिए दूरी बना लें । डिलीवरी के बाद पपीते के सेवन से कोई नुकसान नहीं है , बल्कि ए काफी फायदेमंद होगा ।
 पपीते में अत्यधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है जिसकी वजह से कुछ लोगों को जिनको फाइबर से एलर्जी है उन्हें loose motion  की समस्या हो सकती है ।
और भी कुछ अलर्जी कंडीशन हैं जिनमें पपीते के सेवन को बंद करने की सलाह दी जाती है ।
तो अगर आप उपरोक्त में से किसी भी कैटेगरी में आते हैं या आपको papaya  खाने से कोई भी समस्या उत्पन्न होती है तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से कंसल्ट करें ।

पपीता और सौंदर्य

जैसा कि मैंने पहले ही बताया कि papaya आपके स्वास्थ्य के लिए जितना लाभकारक है उतना ही आपके सौंदर्य के लिए भी लाभकारक है ।
अगर आपको किसी भी तरह की skin की कोई समस्या है तो पपीता आपके लिए helpful हो सकता है ।
पपीता खाना स्किन के लिए जितना लाभकारी होता है उतना ही लाभकारी पपीते को कई तरह के फेसपैक इत्यादि बनाकर चेहरे पर अप्लाई करना भी  है ।
आइए हम पपीते के सौंदर्य बढ़ाने वाले नुस्खों की बात करते है

@ papaya facial

 मार्केट में कई तरह के पपाया फेशियल उपलब्ध है । जिनको आप अपने बजट और अपनी समस्या के अनुसार खरीद सकते हैं और उनका उपयोग कर सकते हैं । परंतु मैं यहां घर पर ही बनाए जाने वाले और किए जाने वाले पपाया फेशियल की बात करने जा रही हूं । जिसके लिए कुछ टिप्स इस तरह से हैं –

@ papaya scrub

papaya scrub बनाने के लिए आप पपीते के बीजों को अच्छे से धो कर सुखा लें , इसके बाद उनको मिक्सर में डालकर दरदरा पाउडर बना लें ।अब इस पाउडर में आप शहद और नींबू का रस डालकर फेशियल स्क्रब की तरह यूज कर सकते हैं
एक चम्मच papaya बीज का पाउडर , और उसमें एक चम्मच शहद डालिए ,  सिर्फ कुछ बूंदे नींबू के रस की डालिए । इसे अच्छे से मिक्स करें और इस पेस्ट को अपने पूरे चेहरे पर अप्लाई करिए । 10 मिनट बाद अच्छे से इसका मसाज करें और अपने चेहरे को हल्के गुनगुने पानी को साफ कर लीजिए । यह एक अच्छा एक्सफोलिएटिंग स्क्रब है जो आपके चेहरे की डेड स्किन को हटा देता है ।

@ papaya pack

papaya pack बनाने के लिए अच्छे से पके हुए पपीते को लेकर उसका छिलका उतारे और उसके छोटे-छोटे टुकड़े करके मिक्सर में डाले और अच्छा सा पेस्ट बना लें । अब दो चम्मच पपाया पेस्ट लेकर  उसमें एक चम्मच जौ का आटा मिलाइए एक चम्मच गुलाब जल और एक चम्मच दही डालिए ।
 इसे अच्छे से मिक्स करके अपने पूरे चेहरे पर apply करिए और उंगलियों की सहायता से हल्के हाथों से मसाज करिए । लगभग 5 मिनट तक मसाज करने के बाद इसे ऐसे ही छोड़ दें , और सूख जाने के बाद साफ पानी से अपने चेहरे को अच्छे से धो लें , और मॉइश्चराइजर अप्लाई करें ।
 पपीते का facial,  blemishes , dark spots, pigmentation , sunburn etc में काफी लाभदायक है । हफ्ते में 2 दिन यह होममेड फेशियल अप्लाई करें और कुछ ही समय में अपनी स्किन प्रॉब्लम्स को सॉल्व करें  । इस facial को आप dark neck  या बॉडी के और किसी पार्ट पर अप्लाई कर सकते हैं ।
पपीता एक ऐसा फल है जो हमारी health और beauty के लिए समान रूप से उपयोगी है । तो अब papaya को अपने आहार में शामिल कीजिए और खुद को अंदर से स्वस्थ और बाहर से खूबसूरत बनाइए1
papaya से संबंधित कोई और जानकारी चाहिए तो आप मुझसे comment box  में पूछ सकते हैं

Useful links

thanks and happy reading 😊

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply